The Psychology of Money Book Summary in Hindi

Gangadhar · 06 may, 2022

SHORT STORY

स्टोरी है – Ronald James Read नाम के एक बिल्कुल आम आदमी की, जो एक बहुत ही आम आदमी की तरह से हाई स्कूल ग्रेजुएट होता है 

अब दूसरा सवाल है – ऐसा कैसे हुआ ?

तो इसका जवाब है – Ronald James Read के पास पेशेंस था, धैर्य था, उसने अपनी कमाई का एक हिस्सा जो निवेश किया था, उसने लम्बे समय में Compounding.

सीख क्या है ? (LESSON TO LEARN)

तो सबसे पहले तो आप अगर ध्यान से देखे, तो आपके आस पास ऐसी हजारो रियल लाइफ स्टोरी, रियल लाइफ घटना देखने को मिल जाएगी, जिसमे आप देखेंगे कि  

सीख क्या है ? (LESSON TO LEARN)

Doing well with money has a little to do with how smart you are and a lot to do with how you behave. 

FINANCIAL SUCCESS में PSYCHOLOGY का रोल,

फाइनेंसियल सक्सेस के लिए ये जरुरी नहीं है कि – आप कितने समझदार हो, आप फाइनेंस, बैंकिंग , इन्वेस्टमेंट, और पैसे के विषय के बारे में कितना कुछ जानते है,

FINANCIAL SUCCESS में PSYCHOLOGY का रोल,

किस भी तरह के ज्ञान, चाहे वो कोई सब्जेक्टिव ज्ञान हो , फाइनेंसियल एजुकेशन, इन्वेस्टमेंट हो या किसी भी तरह के ज्ञान का आपके फाइनेंसियल सक्सेस या

KEY LESSON PSHYCOLOGY OF MONEY  

Any kind of Success, including financial success is more and more depend on your daily real life disciplines, rather than the knowledge you have.

KEY LESSON PSHYCOLOGY OF MONEY  

Doing well with money has a little to do with how smart you are and a lot to do with how you behave.

KEY LESSON PSHYCOLOGY OF MONEY  

तो आइये थोडा इसे डिटेल में समझते है और कुछ एक्साम्प्ल से समझते है कि ऐसा क्यों कहा जा रहा है कि –

KEY LESSON PSHYCOLOGY OF MONEY  

बहुत अच्छे पढ़े लिखे, समझदार और sincere लोग भी, अक्सर जो सही चीज है, जिसके बारे में उन्हें ज्ञान है कि ये चीज नहीं करना है, फिर भी रियल लाइफ में वही करते

KEY LESSON PSHYCOLOGY OF MONEY  

Ordinary folks with no financial education can be wealthy if they have a handful of behavioral skills that have nothing to do with formal measures of intelligence.